Bahufali Ke Fayde in Hindi जाने क्या है बाहुफ़ली और उसके फायदे

जड़ी बूटियां आज से नहीं प्राचीन काल से ही अक्सर पेड़ पौधों के द्वारा ही प्राप्त की जाती है। अक्सर जड़ी बूटियां पूरे पौधे के रूप में भी उपयोग में ली जाती हैं। जड़ी बूटी वाले पौधे का कोई भी एक हिस्सा जड़,तना,पत्ती फूल आदि जड़ी बूटी के उपयोग में लिया जाता है। कुछ पौधे तो ऐसे होते हैं जो पूरे यह जड़ी बूटी के उपयोग आते हैं। कुछ पौधे में पत्तियां उनके जड़ी बूटी में उपयोग में आती है, या किसी के फूल जड़ी बूटी के उपयोग में आते हैं। हर पौधे की अलग अपनी कुछ विशेषताएं होती है, जो की औषधि के रूप में गिनी जाती है, इसके अलावा विभिन्न प्रकार भोजन के रूप में काम आने वाली जड़ी बूटियों को पाक जड़ी-बूटी कहा जाता है। जड़ी बूटियां अलग-अलग प्रकार की होती है, बाहुफ़ली के पौधे की फायदा कुछ जड़ी बूटियों को ताजा ही औषधि के रूप में काम में लिया जाता है और कुछ जड़ी बूटी को सुखाकर पाउडर बनाकर काम में लेते हैं। आज हम आपको इस आर्टिकल के द्वारा बाहुफ़ली के पौधे के फायदे के बारे में बताने जा रहे हैं। बाहुफ़ली का पौधा क्या होता है, इसके क्या क्या फायदे हैं, इसको किस तरह से उपयोग में लिया जाता है इन सभी के बारे में बताने जा रहे हैं…

जड़ी बूटियां आज से नहीं प्राचीन काल से ही अक्सर पेड़ पौधों के द्वारा ही प्राप्त की जाती है। अक्सर जड़ी बूटियां पूरे पौधे के रूप में भी उपयोग में ली जाती हैं। जड़ी बूटी वाले पौधे का कोई भी एक हिस्सा जड़,तना,पत्ती फूल आदि जड़ी बूटी के उपयोग में लिया जाता है। कुछ पौधे तो ऐसे होते हैं जो पूरे यह जड़ी बूटी के उपयोग आते हैं। कुछ पौधे में पत्तियां उनके जड़ी बूटी में उपयोग में आती है, या किसी के फूल जड़ी बूटी के उपयोग में आते हैं। हर पौधे की अलग अपनी कुछ विशेषताएं होती है, जो की औषधि के रूप में गिनी जाती है, इसके अलावा विभिन्न प्रकार भोजन के रूप में काम आने वाली जड़ी बूटियों को पाक जड़ी-बूटी कहा जाता है। जड़ी बूटियां अलग-अलग प्रकार की होती है, बाहुफ़ली के पौधे की फायदा कुछ जड़ी बूटियों को ताजा ही औषधि के रूप में काम में लिया जाता है और कुछ जड़ी बूटी को सुखाकर पाउडर बनाकर काम में लेते हैं। आज हम आपको इस आर्टिकल के द्वारा बाहुफ़ली के पौधे के फायदे के बारे में बताने जा रहे हैं। बाहुफ़ली का पौधा क्या होता है, इसके क्या क्या फायदे हैं, इसको किस तरह से उपयोग में लिया जाता है इन सभी के बारे में बताने जा रहे हैं…

बाहुफ़ली का पौधा

अक्सर लोग बीमारियों के लिए जड़ी बूटियों का प्रयोग करते हैं। यह प्रयोग आज के ही नहीं बल्कि प्राचीन काल से किया जा रहा है, और इसने आज चिकित्सा प्रणाली को भी बहुत सख्त बनाया है। बाहुफ़ली का पौधा का फायदा ज्यादातर ग्रामीण इलाकों में पाया जाता है। इस पौधे का उपयोग कुछ लोग तो सब्जी के रूप में भी किया जाता हैं। इसके अलावा इस पौधे में बहुत से औषधीय गुण भी पाए जाते हैं। यह पौधा ऊपर से दिखने में पत्तों पत्तों के रूप में होता है। जब इसको जड़ सहित उल्टा करके देखा जाए तो इसमें बहुत सारी औषधीय फलिया भी दिखाई देती हैं। इनकी लंबाई ज्यादा नहीं होती है। यह पौधे के रूप में ही होते हैं।इसके अलावा इस पौधे के अन्य नाम भी होते हैं, बहु नेत्र फली, बाहुफ़ली आदि।

अक्सर यह पौधा बारिश के दिनों में पनपता है। इसमें घुटनों के रूप में फलिया एक साथ लगती हैं। इसके अलावा इसमें फूल भी लगते हैं। जिनका भी प्रयोग औषधि में किया जाता है।

बाहुफ़ली की संरचना

बाहुफ़ली का पौधा अक्सर बारिश के दिनों में ज्यादा देखने को मिलता है और यह एकमात्र जमीनी पौधा है। जो केवल जमीन पर एक बेल की तरह चारों तरफ बढ़ता है और फैल जाता है। इसमें गुछो के रूप में फलियां लगती है। जो अक्सर मुड़ी हुई रहती है इसकी पत्तियां थोड़ी अंडाकार ,कंगूरी व स्वाद में थोड़ी कड़वी होती है। और इसके पत्ते बहुत चिकने भी होते हैं। आयुर्वेद के अनुसार अगर बात करें तो बाहुफ़ली का पौधा हमारे शरीर में बढ़ रही बहुत सी बीमारियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। बाहुफ़ली त्वचा संबंधी पेट संबंधी और अन्य शारीरिक इंटरनल प्रॉब्लम्स को इसके अलावा महिलाओं में हो रही अनेक बीमारियों के लिए यह बहुत फायदेमंद होता है। बाहुफ़ली के पौधे की सबसे बड़ी खास बात है यह होती है कि यह पूरा पौधा महिलाओं में पुरुषों की यौन संबंधी समस्याओं को पूरी तरह से खत्म करता है। बाहुफ़ली के प्रयोग से धातु का पतलापन दूर होता है गुप्त रोग जैसी समस्या खत्म की जाती है इसके अलावा पुरुषों में इम्यूनिटी पावर फ्रॉम होता है। बाहुफ़ली के पौधे को जमीन पर फैलने वाला पौधा भी कहते हैं बाहुफ़ली का लैटिन नाम कोरचर्स है। 

बाहुफ़ली औषधि के फायदे

बाहुफ़लीके पौधे के फायदे में बाहुफ़ली के जड़ पत्ती फली सभी औषधि के रूप में बहुत काम आती है। इसके अलावा इसकी पत्तियों का फली का चूर्ण बनाकर भी बहुत सी बीमारियों के लिए प्रयोग किया जाता है। बहुफली का पाउडर आपको ऑनलाइन भी खरीदने को मिल सकता है। इसके अलावा किसी सही चिकित्सक की सलाह पर आप बाहुफ़ली पाउडर को खरीद कर उपयोग में ले सकते हैं, आइए जानते हैं बाहुफ़ली के पौधों के औषधि के फायदे के बारे में.

1. शरीर को ताकतवर बनाने के लिए – 

व्यक्ति को अपना शरीर ताकतवर बनाने के लिए और शारीरिक कमजोरी को दूर करने के लिए बहुफली के पत्ते, जड़, फली सभी को सुखाकर बारीक बहुफली का पाउडर बनाकर उसमें नागकेसर सतावर सिंघाड़ा तीनों को इसमें बराबर मात्रा में बारिक मिलाना है उसके बाद इन तीनों के वजन के अनुसार इसमें बारीक मिश्री का कूटकर पाउडर बनाकर पूरा औषधीय पाउडर तैयार करना है। इसको आप एक बंद कंटेनर में जिसमें हवा पास ना हो उसमें रखे और इसका प्रयोग आप रोजाना सुबह-शाम आने के बाद एक चम्मच दूध के सेवन करने पर आपकी शारीरिक ताकत मजबूत होगी। अगर आप कमजोर हैं तो आपका शरीर अच्छा होगा।

2 शारीरिक गुप्त रोगों के लिए – 

बाहुफ़ली का पौधा पुरुषों में गुप्त रोग शीघ्रपतन स्वप्नदोष इन सब समस्याओं को दूर करता है। इसके अलावा शारीरिक इम्यूनिटी पावर को भी बहुत स्ट्रांग बनाता है। अक्सर इन समस्याओं के लिए लोग डॉक्टर के पास जाना पसंद नहीं करते है। ऐसे में बाहुफ़ली के पौधे का पाउडर का प्रयोग करके अपनी शारीरिक गुप्त रोग संबंधित बीमारियों के लिए सभी पुरुष इस बाहुफ़ली के पाउडर का प्रयोग करके अपनी समस्या को दूर कर सकते हैं। बाहुफ़ली के पत्तों को बारीक कूटकर उसका रस 10 से 20 ग्राम बना ले बाहुफ़ली के फली के बीजों का चूर्ण 1 से 3 ग्राम, 1 से 3 ग्राम छोटी पीपल का चूर्ण इसमें मिश्री के पाउडर को मिलाकर सुबह-शाम खाना खाने से एक दो घंटा पहले इसका सेवन करना पड़ता है।

3. यौन संबंधित समस्या के लिए – 

बाहुफ़ली का पौधा पुरुषों की सभी प्रकार की यौन संबंधित समस्याओं को दूर करता है। बाहुफ़ली का पौधा शीतल प्रकृति का पौधा होता है। योन संबंधी समस्या के लिए बाहुफ़ली के पौधे की पत्तियों को साफ पानी से धो लें और उनको कूटकर उस का रस निकालने उसमें छोटी पीपल का चूर्ण और मिश्री पाउडर मिलाकर खाने से योन संबंधी समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है इसके अलावा आप बाहुफ़ली का पाउडर भी उपयोग में ले सकते हैं। इसके अलावा यह औषधि पुरुषों में हो रहे स्वप्नदोष को भी दूर करती है।

4. सफेद पानी की समस्या – 

अक्सर महिलाओं में सफेद पानी की समस्या शादी के बाद बहुत अधिक देखने को मिलती है ऐसे में बाहुफ़ली के पाउडर का रोजाना प्रयोग करने से इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है।

5. पेट संबंधित समस्या के लिए – 

बाहुफ़लीका पौधा पेट से संबंधित अनेक प्रकार के रोगों के लिए जैसे लीवर संबंधित खाना ना पचना पेट में कई प्रकार की बीमारियां होती है उन सभी के लिए बाहुफ़ली का पाउडर बहुत फायदेमंद होता है।

Conclusion

आज हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बाहुफ़ली के पौधे के फायदे के बारे में जानकारी दी है उम्मीद है आपको हमारे द्वारा दी गई सभी जानकारी पसंद आई होगी। इससे जुड़ी हुई अन्य किसी भी जानकारी के लिए आप हमारे कमेंट बॉक्स में जाकर कमेंट करके पूछ सकते हैं।

FQA

Q.1 बाहुफ़लीका पौधा क्या होता है?

A.एक औषधीय पौधा होता है।

Q.2 बाहुफ़ली के पौधे की जड़ औषधी के रूप में भी काम आ सकती हैं?

A.जी हां

Q.3 क्या बाहुफ़ली के पौधे की दवाइयां ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं?

A.जी हां

Q.4बहुफली का पौधा ज्यादातर कहा मिलता है?

A.ग्रामीण क्षेत्रों में।

Leave a Comment